loading...

जो आपको चाहिए यहाँ खोज करे

loading...

गुरुवार, 18 मई 2017

पेट की गैस को दूर भगाने का रामबाण इलाज The panacea for stomach gas removal

By
loading...
आज हम आपको पेट में होने वाली गैस की तकलीफ का राम बाण इलाज बताएगे आज कल की भाग दोड भरी जिंदगी में हम अपने शरीर का ध्यान नही देते भोजन को सही टाइम पर नही करना पानी कम पीना अधिक खट्टे, तीखे,    आदि क्रोध शोक, चिंता जैसे मानसिक कारण, परिश्रम न करना, यकृत रोग की उपस्थिति, मांसाहार का सेवन मिर्च मसालेदार, बादी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन , देर रात तक जागना , भोजन में सलाद का अभाव, पानी कम पीना, चना, उड्द, मटर, मूग, आलू, मसूर, गोभी चावल आदि का अधिक सेवन करना
पेट की गैस को दूर भगाने का  रामबाण इलाज The panacea for stomach gas removal

पेट की गैस के लक्षण-

पेट की गैस होने पर पीड़ित को कुछ लक्षण महसूस होते है जैसे – पेट में गैस भरी हुई मालूम होना, पेट और पीठ में दर्द, आंतों में गड़गड़ाहट, पेट साफ न होना, ठीक से नींद न आना, आलस्य व थकावट, सिर दर्द, भूख कम लगना, दिल की धड़कन बढ़ना, गैस के कारण सीने में दर्द , डकारें आना, छाती में जलन, सिर चकराना, नाड़ी दुर्बलता, और गैस निकलने पर आराम मिलना जैसे गैस के लक्षण देखने को मिलते हैं।

  पेट की गैस का आयुर्वेदिक इलाज / Ayurvedic Treatment For Stomach Gas Problems

गैस की रामबाण दवा – छिलका रहित लहसुन 10 ग्राम, जीरा, शुद्ध गंधक, सोंठ, सैंधा नमक, कालीमिर्च, पिप्पली और घी में भुनी हुई हींग प्रत्येक 5-5 ग्राम लेकर सभी को पीसकर उसमे थोडा सा नीबू रस डालकर चने के आकार की गोलियां बनाकर सुरक्षित रख लें। यह 1-2 गोली भोजनोपरांत सेवन करते रहने से अपच, अजीर्ण , गैस की बीमारी ठीक हो जाती है |
एक सेब छीलकर इसके इर्द-गिर्द जितनी भी लौंगें आ सकें उन्हें चुभो दें। फिर उस सेब को 40 दिन तक किसी सुरक्षित स्थान पर रखे दें। उसके बाद इन लौंगों को निकालकर किसी साफ-स्वच्छ शीशी में रख ले। भोजनोपरांत दिन में 2 बार 1-1 लौंग चूसने से पेट के सभी रोगों और पेट की गैस से भी मुक्ति मिल जाती है | यह पेट की गैस का रामबाण इलाज है |
3 ग्राम  कालीमिर्च और 6 ग्राम मिश्री पीसकर लेने से अफारा मिट जाता है। परंतु ऊपर से पानी न पिएं। यह भी एक अच्छी गैस की दवा है | यह भी पढ़ें – दस्त के घरेलू उपचार -27 बेहतरीन अतिसार उपचार |
वैसे आप चाहें तो पतंजलि गैस की दवा “दिव्य गैसहर चूर्ण ” का उपयोग भी कर सकते हैं |
ये भी देखे -

loading...
loading...