loading...

जो आपको चाहिए यहाँ खोज करे

loading...

रविवार, 25 दिसंबर 2016

25के बाद भी लम्बाई बढाने का सरल तरीका -After 25, the simplest way to increase the length

By
loading...
आयुर्वेद में लिखी ये जड़ी-बूटी आपकी लम्बाई को बड़ा देती है जल्दी से . बस आप को रोज़ के भोजन में विटामिन-सी, मैगनीज, जिंक, कैल्शियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस और प्रोटीन होने बेहद ज़रूरी हैं. ये सभी लम्बाई बढ़ाने वाले हॉर्मोन की गतिविधि को बढ़ाने में मदद करते हैं.आपको  निचे लिखी इन जड़ी-बूटी और खान पान का का नियमित सेवन करना होगा 
25के बाद भी लम्बाई बढाने का सरल तरीका -After 25, the simplest way to increase the length

1. अश्वगंधा-
यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिससे विभिन्न प्रकार के फायदे जुड़े हुए हैं. इससे हड्डियाँ चौड़ी होती हैं और उनमें मजबूती आती है. जिससे शरीर की लम्बाई बढ़ती है.
2. मछली-
मछली प्रोटीन और विटामिन-डी का बहुत महत्वपूर्ण जरिया है. और शरीर की वृद्धि के लिए बहुत ज़रूरी है.
यह भी पढ़े: सिर्फ एक कप चाय से अल्जाइमर जैसी खतरनाक बीमारी कों दे सकते है मात
3.हरी सब्जियां-
ये तो सभी ज़रूरी पोषक तत्वों, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन, और रेशों का खज़ाना होती हैं. इनके सेवन से लम्बाई बढ़ाने वाले हॉर्मोन का श्राव बढ़ता है.
4. अखरोट और अन्य बीज-
इनमें प्रचुर मात्रा में सेहतमंद वसा, एमिनो एसिड और ज़रूरी तत्व होते हैं जो शरीर की कोशिकाओं और ऊतकों की मरम्मत करते हैं और नए ऊतक बनाने में सहायता करते हैं. साथ ही ये पोषक तत्व लम्बाई बढाने वाले होर्मोन का स्तर भी बढ़ाते हैं.
5. दलिया-
दलिया में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन होता है जो मांसपेशियों को मज़बूत करता है और लम्बाई बढ़ाने में सहायक है.
यह भी पढ़े: मछली खाने के इन फायदे के बारे में नहीं जानते होंगे आप, स्वास्थ्य के लिए है काफी लाभदायक
6. केला-
केले में कैल्शियम, मैगनीज़. पोटैशियम और स्वास्थयवर्धक प्रोबायोटिक जीवाणु होते हैं जो लम्बाई बढ़ाने में सहायक होते हैं.
7. अंडे-
अंडे में उच्च-कोटि के प्रोटीन होते हैं जो शरीर को बढ़ने में सहायक होते हैं, साथ ही इनमें विटामिन D, कैल्शियम और रिबोफ्लैविन होते हैं जो मज़बूत हड्डियों के लिए ज़रूरी है.
यह भी पढ़े: इन तरीकों कों अपना कर आप पा सकते है दूध से चमकीले दांत
9. चिकन-
यदि आप 25 वर्ष की आयु के बाद लम्बाई बढ़ाना चाहते हैं, तो चिकन यानी मुर्गे का मांस बहुत उपयोगी है. यह प्रोटीन का प्राकृतिक स्त्रोत है जिससे ऊतक और मांसपेशियां बनती हैं.
ये भी देखे -
loading...
loading...