loading...

जो आपको चाहिए यहाँ खोज करे

loading...

सोमवार, 14 नवंबर 2016

मरने के बाद क्या होता है आत्मा का गुप्त ज्ञान -Secret knowledge of what happens after death, the soul -

By
loading...
 क्या होता है मरने के बाद - मौत के लक्षण-मरने के बाद आदमी कहाँ जाता है-मरने का आसान तरीका-मरने के बाद आत्मा कहाँ जाती है-मौत के बाद का रहस्य-मृत्यु के बाद का जीवन-मृत्यु के बाद का सत्य-मरने के बाद,,,,कितने सवाल है हमारे मन में ,,,,जबाब ये है की  सामान्य व्यक्ति जैसे ही शरीर छोड़ता है, सर्वप्रथम तो उसकी आंखों के सामने गहरा अंधेरा छा जाता है, जहां उसे कुछ भी अनुभव नहीं होता।    कुछ समय तक कुछ आवाजें सुनाई देती है कुछ दृश्य दिखाई देते हैं जैसा कि स्वप्न में होता है और फिर धीरे-धीरे वह गहरी सुषुप्ति में खो जाता है, जैसे कोई कोमा में चला जाता है।  गहरी सुषुप्ति में कुछ लोग अनंतकाल के लिए खो जाते हैं, तो कुछ इस अवस्था में ही किसी दूसरे गर्भ में जन्म ले लेते हैं। प्रकृ‍ति उन्हें उनके भाव, विचार और जागरण की अवस्था अनुसार गर्भ उपलब्ध करा देती है जिसकी जैसी योग्यता वैसा गर्भ या जिसकी जैसी गति वैसी सुगति या दुर्गति। गति का संबंध मति से होता है। सुमति तो सुगति।    
मरने के बाद क्या होता है आत्मा का गुप्त ज्ञान -Secret knowledge of what happens after death, the soul -
लेकिन यदि व्यक्ति स्मृतिवान (चाहे अच्छा हो या बुरा) है तो सु‍षुप्ति में जागकर चीजों को समझने का प्रयास करता है। फिर भी वह जाग्रत और स्वप्न अवस्था में भेद नहीं कर पाता है।
कुछ-कुछ सोया हुआ सा रहता है, लेकिन उसे उसके मरने की खबर रहती है। ऐसा व्यक्ति तब तक जन्म नहीं ले सकता जब तक की उसकी इस जन्म की स्मृतियों का नाश नहीं हो जाता। कुछ अपवाद स्वरूप जन्म ले लेते हैं जिन्हें पूर्व जन्म का ज्ञान हो जाता है।
लेकिन जो व्यक्ति बहुत ही ज्यादा स्मृतिवान, जाग्रत या ध्यानी है उसके लिए दूसरा जन्म लेने में कठिनाइयां खड़ी हो जाता है, क्योंकि प्राकृतिक प्रोसेस अनुसार दूसरे जन्म के लिए बेहोश और स्मृतिहीन रहना जरूरी है मृत्यु जीवन का आखरी सच हैं. सब को मरना हैं. लेकिन इस जीवन काल में हम कभी भी
मौत के बाद की हकीकत -The reality of death -

कुछ लोगो का मौत का अनुभव -

 इस जीवन और मृत्यु के समय के दौरान लोगोने किसी तरह की जागृतता अनुभव करने का वर्णन किया हैं.
कई लोगोने ने अपने  शरीर को पूरी तरह से  छोड़ने के बाद खुद के ही शरीर को रूम के किसी एक कोने से देख सकने का का अनुभव किया. उन्होंने अनुभव किया की वे रूम में उनके शरीर से थोड़ी ऊंचाई पर स्थित हैं और डॉक्टर्स उनका ईलाज कर रहे हैं. वे लोग अपने आप को देख सकते थे. इलाज के वक्त कुछ लोगोने 3-5 मिनिट तक मर चुके होने के बावजूद उस वक्त के दौरान उस रूम में होती हुई प्रत्येक क्रियाओं का वर्णन किया. उसमे उन्होंने नर्सिग स्टाफ के लोगो की क्रियाओं का वर्णन किया और मशीनों की आवाजे सुनी. ज्यादातर किस्सों में दिल धडकना बंद हो जाने के बाद 20-30 सेकंड के अंदर दिमाग काम करना बंद कर देता हैं. लेकिन इन मामलों में दिल धडकना बंद हो जाने के 3-5 मिनिट तक वहाँ पर शरीर में जागृतता मौजूद थी.

कुछ लोगोने असामान्य रूप से शांति की भावना का अनुभव किया तो कुछ लोगोने समय बहुत धीरे से चलने का या बहुत ही तेजी से चलने का अनुभव किया. कुछ लोगोने सूरज के जैसी सुनहरे रंग की बहुत चमकदार रोशनी को देखने की बात कही. कुछ लोगोने किसी अंजान डर का अनुभव किया तो कुछ लोगोने खुद को गहरे पानी में डूबने का या गहराइ में घसीटे जाने का अनुभव किया. कुछ लोगो को चमकदार रौशनी की सुरंग दिखती हैं जिसमे वे प्रकाश की ओर तेजी से जाने लगते हैं.
वैज्ञानिक धारणा क्या है मौत की -

वैसे वैज्ञानिक अभी इस विषय पर पूरी तरह से सही निष्कष तक नहीं पहुँच पाए हैं. कुछ वैज्ञानिकों का दावा हैं की ऐसे अनुभव लोगों के भ्रम भी हो सकते हैं या फिर दिमाग के अन्दर होती कोई केमिकल प्रक्रियाओं का परिणाम हो सकते हैं. लेकिन मौत से नजदीकी अनुभव (Near-death Experiences) करनेवाले लोग उन्होंने जो देखा उस पर पूरा भरोसा रखते हैं. सच्चाई चाहें जो भी हो लेकिन विज्ञान एक न एक दिन इस विषय पर से पर्दा जरुर उठाएगा. हमे शायद थोडा इंतजार करना पड़ेगा.
69% मामलों में लोग अपने आसपास एक असामान्य प्यार की मौजोदगी होने का अनुभव करते हैं. वहाँ पर उन्हें कुछ इन्सान के आकार के रोशनी से भरपूर कुछ प्राणी दिखते हैं, कईयों का मानना हैं की यह प्राणी उनके मरे हुए प्रियजन थे. कुछ लोग ऐसी जगह पर पहुँच जाते हैं जहाँ पर उन्हें बहुत सारा प्यार और ख़ुशी महसूस होती हैं. उन्हें पृथ्वी के जीवन से यहाँ का जीवन ज्यादा असली लगता हैं. उनको लगता हैं की मानवशरीर वाला जीवन एक सपना था लेकिन यह सच्चाई हैं. कुछ लोग भगवान से मिलकर वापस आने की बात करते हैं. कुछ लोगो का कहना हैं की उनको दिखनेवाले रोशनीवाले प्राणी उनसे कहाँ हैं की तुम्हारा अभी यहाँ पर आने का वक़्त नहीं हुआ हैं. तुम्हे अभी बहुत काम करने बाकि हैं इसलिए तुम्हे वापस जाना पड़ेगा. कुछ लोग भविष्य की झलक देखने का दावा करते हैं तो कुछ लोग उन्हें असीमित ज्ञान प्राप्त कर लेने का दावा करते हैं.
ये भी देखे -जाने कयामत,प्रलय का दिन कब आएगा -The doom, doomsday will come when
                 --सपनो का मतलब भाग -3 -Part -3 meaning of dreams -
              --सौ सालों से सो रही है ये बच्ची रोजालिया लोबरडो-Sleeping Beauty-Hundred years, this child is sleeping. Rojalia Lobrdo-
            --3500 साल पुरानी शापित फिरौन की लाश का रहस्य-firon ki shaapit lash ka rahasya
loading...
loading...