loading...

जो आपको चाहिए यहाँ खोज करे

loading...

सोमवार, 17 अक्तूबर 2016

चेहरा देखकर जाने महिलाओ के गहरे राज -Girls face the dark secrets of seeing -

By
loading...
चेहरे से जानिए स्वभाव 
कहते है चेहरा मन का दर्पण है ये बात सही है । हमारे शास्त्रों में स्त्री के स्वभाव को जानने के लिए बहुत कुछ लिखा है समुद्र शास्त्र में इसका वर्णन है |मानव मन के अनेक प्रकार के विचार चेहरे पर आ जाते हैं जो स्नायु का कार्य करते हैं। ग्रहों के प्रभाव से स्वभाव निश्चित होता है और उसका स्थायी प्रभाव चेहरे पर पड़ता है।  एक बार किसी का स्वभाव जैसा बन जाता है वैसा सदैव बना रहता है, हां, चित्त को एकाग्र कर मूलभूत आदतों में परिवर्तन अवश्य लाया जा सकता है।तो जरा गोर फरमाइए इन बातो पर --निचे
चहरे से चरित्र स्वभाव स्त्री ओरत लड़की महिला  -Girls face the dark secrets of seeing -


किसी स्त्री का देह फूल के समान कोमल है तो इसका मतलब है कि वो ताउम्र स्वस्थ रहेगी जीवन में कभी शारीरिक कष्टों को नहीं झेलना पड़ेगा।
ऐसी महिलाएं ईमानदार और चरित्रवान होती हैं जिसकी भौंहें छोटी और एक जैसी होती है।
वह स्त्री खुशमिजाज होती है जिसकी आंखें बड़ी-बड़ी हो । वो खुद तो खुश रहती ही है और आपने आस-पास वालों को भी खुश रखती हैं।
उस स्त्री की आयु बहुत अधिक होती हैं । जिस के मस्तक पर पांच रेखाएं होती हैं। उसकी विचार और शक्ति भी बहुत तेज होती है ।
गोल आकार और मोटे होठों वाली महिलाओं के जीवन में कठिनाइयां बहुत कम आती है और वो एक अच्छा जीवन जीती हैं।
ऐसी महिलाएं जिनका ऊपर वाला होठ मोटा होता है तो वह बहुत ही झगड़ालू किस्म की होती है, और उनका गुस्सा भी बहुत तेज होता है
जिस महिला का कद या तो बहुत कम हो या बहुत ज्यादा हो तो इस तरह की औरते बोलने से ज्यादा छिपाने में विश्वास रखती है। वह अपनी बातों को सिर्फ सही समय आने पर उजागर करती है।
जरूरत से ज्यादा मोटी या पतली महिलाएं बहुत गुस्सैल प्रवृत्ति की होती हैं। या फिर वो महिलाएं जिनकी आंखों या बालों का रंग पीला होता है, वो भी बहुत गुस्सैल प्रवृत्ति की होती हैं।
भौंहें और मोटी गर्दन वाली स्त्री शांति में नहीं बल्कि लड़ाई-झगड़े में लगी रहती है।
लड़कियां जिनके नीचे के होठ गुलाबी होते हैं वह स्वभाव से शांत होती है।
जिन महिलाओं की चाल सामान्य होती हैं यानी ना बहुत तेज और ना बहुत ढीली, वो बुद्धिमान और विवेकशील होती है।
जिस स्त्री के शरीर में से फूल या चंदन जैसी सुगंध आती है वो बहुत ही शांत स्वभाव की होती है और उसका भाग्य बहुत तेज होता है।
जिस स्त्री की नाभि गहरी होती है और पैर के तलुए बेहद कोमल होते हैं वो राजा के समान जीवन जीना ज्यादा पंसद करती है।

 वात्सायन के कामसूत्र में महिलाओं के चेहरे चार प्रकार के बताए गए हैं-1- पद्मिनी, 2-चित्रिणी, 3-हस्तिनी और 4-शंखिनी 

पद्मिनी स्त्री-
 इसका चेहरा लंबोतरा तथा शुक्र प्रधान होता है। इसकी प्रवृत्ति भोग प्रधान होती है। इसका भाग्य साधारणतः अच्छा होता है।

चित्रिणी स्त्री-
इसका चेहरा सुंदर व गोला¬कार तथा हनु (ठुड्डी) नुकीली होती है। चेहरे पर गुरु, सूर्य तथा बुध का प्रमाण होता है। इसका स्वभाव शीलयुक्त, पवित्र तथा स्नेही होता है। यह भाग्यवान होती है।

 हस्तिनी स्त्री-
 इसका चेहरा बड़ा, लंबा व त्रिकोणाकार और मंगल, शुक्र तथा शनि प्रधान होता है। इसकी प्रवृत्ति सुख भोगने की होती है। लेकिन भाग्य में दुख ज्यादा होता है। फिर भी यह हर काम हंस कर करती है।

 शंखिनी स्त्री-
 इसका चेहरा चैकोर तथा जबड़े बड़े होते हैं। चेहरे पर शनि, राहु और शुक्र के गुण होते हैं। इसका स्वभाव व प्रवृत्ति दुष्ट होती है। पुरुषों के चेहरे पुरुषों के चेहरे मुख्यतया चार प्रकार के होते हैं उन्हें पहचान कर व्यक्ति के स्वभाव को जाना जा सकता है।

मंगोलियन-
इस तरह के चेहरे भारत में 95 प्रतिशत देखे जा सकते हैं। इनका चेहरा शुक्र व मंगल प्रधान होता है। इनका स्वभाव खाना पीना और मौज मस्ती करना होता है। ये निर्लज्ज, क्रोधी, धर्म विरोधी होते हैं।

 चीनी चेहरे-
ये छोटे आकार के होते हैं। ये चेहरे बुध व शुक्र प्रधान होते हैं। ऐसे चेहरे वाले लोग व्यवहार कुशल होते हैं और भावना को ज्यादा महत्व नहीं देते। आर्यन: ये चेहरे लंबे गोल होते हंै। ये रवि व गुरु प्रधान होते है । ऐसे चेहरे वाले लोग भावुक और धार्मिक होते हैं। इनका स्वभाव अच्छा होता है और पाप कर्म से अपने दूर रखते है 
loading...
loading...