loading...

जो आपको चाहिए यहाँ खोज करे

loading...

रविवार, 3 जुलाई 2016

पन्द्रह बच्चों का हत्यारा निठारी का नर पिचाश।Fifteen male Pichas Nithari child killer.

By
loading...
निठारी हत्याकांड के आरोपियों के राज उनके बारे में गुप्त बातें-
निठारी हत्याकांड के आरोपियों के राज उनके बारे में गुप्त बातें-
नयी दिल्‍ली : दिसंबर 2006 के अंतिम दिनों में नोएडा के डी-5 कोठी में सिलसिलेवार हो रहे हत्याकांड का खुलासा       पुलिस ने किया. उस कोठी में आसपास के इलाकों से 2005 से गायब हो रहे बच्चों की लगातार हत्या की जा रही थी. इस कांड में कोठी मालिक मनिंदर सिंह पंढेर और उसके नौकर सुरिंदर कोली को आरोपी बनाया गया था. इस मामले में मनिंदर सिंह पंढेर को इलाहाबाद कोर्ट से जमानत मिली है, जबकि वह इस कांड का प्रमुख दोषी था. वहीं, कोली को 10 सितंबर को फांसी देने की तारीख तय की गयी है.

सुरिंदर कोली नौकर के रूप में कोठी के गेट पर नजर रखता था और शाम ढलने वक्त जब इलाके में सन्नाटा छा जाता था तो वहां से गुजरने वाली लड़कियों को पकड़ लेता और उनका मुंह बांध कर उससे दुष्कर्म करता और फिर उसकी हत्या कर देता. उस पर शव के साथ दुष्कर्म करने का आरोप है और उसके बाद शव के टुकड़े कर उसे खाने और फिर बचे टुकड़े को दफन कर देने का आरोप है. उसने ये बातें नारको टेस्ट में कबूल की है.
कोली का पर्दाफाश 2006 में तब हुआ जब रिंपा हलधर और पिंकी सरकार के अगवा होने का मामला नोएडा पुलिस ने दर्ज किया. पुलिस ने ढूंढने की बहुत कोशिश की, पर कायमाबी नहीं मिली. 29 दिसंबर 2006 को कोठी के पीछे कुछ नर कंकाल मिलने के बाद मामले का खुलासा हुआ. पुलिस ने जांच तेज की और कोठी के पीछे खुदाई करायी तो रिंकी और रिंपा समेत कुल 15 बच्चों के कंकाल बरामद हुए.

पुलिस ने पंढेर व कोली को गिरफ्तार कर लिया. तीन जनवरी 2007 को केंद्र सरकार ने जांच समिति गठित की. चार जनवरी को उत्तरप्रदेश सरकार ने सीबीआइ जांच से इनकार कर दिया. अंतत: 10 जनवरी को सीबीआइ जांच शुरू हुई.

चाइल्ड पोर्नोग्राफीमानव अंग के व्यापार का संदेह इस मामले में जांच करने पर बच्चों के यौन व्यापार का भी संदेह हुआ. पंढेर के पास से बच्चों के साथ कुछ आपत्तिजनक तसवीरें मिलीं. विदेशियों के साथ भी बच्चों की निर्वस्त्र तसवीरें कोठी से मिली. हालांकि बाद में पुलिस ने इस मामले से इनकार कर दिया. इस मामले को मानव अंग के व्यापार से भी जोड़ कर देखा गया. जांच शुरू होने के बाद पड़ोस के एक डॉक्टर को भी पुलिस ने इस मामले में आरोपी बनाया गया.

बड़े लोगों से रिश्तों का भी लगा था आरोप 2007 में जब इस मामले की जांच पुलिस कर रही थी, तब कोठी मालिक के समाज के कई प्रभावी लोगों से रिश्तों के आरोप लगे थे. उस समय मीडिया में इस तरह की भी खबरें भी आयी थी कि उसके रिश्ते उस समय उत्तरप्रदेश के एक ताकतवर नेता भी थे.
ये भी देखे --आरुषि हत्या कांड ,क्या हुवा उस रात,,,Aarushi murder case, what happened that night 
loading...
loading...